Cricket

रांची: मोहम्मद शमी की बारिश के कारण रद्द कर दिए गए चौथे वनडे मैच में नई गेंद से की गयी घातक गेंदबाजी से सतर्क आस्ट्रेलियाई कप्तान जार्ज बेली ने अपने बल्लेबाजों को सात मैचों की श्रृंखला के बाकी बचे मैचों में इस भारतीय तेज गेंदबाज पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं।

शमी की तेजी और स्विंग से भौचक बेली ने कल यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘निश्चित तौर पर शमी ने शानदार गेंदबाजी की। हमने श्रृंखला में उसे नहीं देखा था और हमने जितना सोचा था वह उससे थोड़ा तेज निकला। निश्चित तौर पर सीम से उसे मूवमेंट मिल रहा था। हमें श्रृंखला के बाकी मैचों में उससे सतर्क रहना होगा।’’

शमी ने आस्ट्रेलिया के शीर्ष क्रम को झकझोर कर रख दिया। इसके बाद बेली (98) और ग्लेन मैक्सवेल (92) ने पांचवें विकेट के लिए 153 रन की रिकार्ड साझेदारी की जिससे उनकी टीम आठ विकेट पर 295 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा करने में सफल रही। इसके बाद हालांकि बारिश ने मजा किरकिरा कर दिया। भारत ने जब 4.1 ओवर में बिना किसी नुकसान के 27 रन बनाए थे तब बारिश आ गयी जिसके बाद आगे का खेल नहीं हो पाया।

बेली ने अब तक श्रृंखला में 318 रन बना लिए हैं लेकिन उन्होंने कहा कि वह एशेज टीम में जगह बनाने के बारे में नहीं सोच रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘लगभग आठ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें एशेज टीम में जगह मिल सकती है। अभी इसमें समय है। अभी से इस बारे में सोचना हास्यास्पद होगा।’’

बेली से पूछा गया कि क्या उन्होंने भारत में श्रृंखला के लिए खास तैयारी की थी, उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कुछ भी अलग नहीं किया था। मैं समझता हूं कि यहां आकर आपको इस पर थोड़ा अधिक ध्यान देना पड़ता है स्पिन को कैसे खेलना है क्योंकि भारत के पास अच्छे स्पिनर हैं।’’

माइकल क्लार्क के चोटिल होने के कारण बेली को कप्तानी की जिम्मेदारी निभानी पड़ रही है और उन्होंने अब तक अपने काम से प्रभावित किया है। उन्होंने इसका श्रेय तस्मानिया के कप्तान डैन मार्श को दिया। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने उनसे काफी कुछ सीखा। वह अब तस्मानिया के कोच हैं। उनका धैर्य, संवाद स्थापित करने की कला, खेल के बारे में ज्ञान, मुझे नहीं लगता कि यह सब कुछ कभी मेरे पास होगा लेकिन निश्चित तौर पर मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा और आगे भी उनसे काफी कुछ सीखूंगा।’’ इस 31 वर्षीय बल्लेबाज ने कहा कि उन्होंने रिकी पोंटिंग और क्लार्क से भी कप्तानी के काफी गुर सीखे।