Sports

नई दिल्ली: राहुल द्रविड़ के खेल के पारंपरिक प्रारूप में भारत के एम्बेसडर रहे हैं और अपने क्रिकेट करियर से संन्यास लेने के बाद उन्होंने कहा कि उनका पहला प्यार ‘टेस्ट क्रिकेट’ ही था।

द्रविड़ से जब पूछा गया कि क्या वह राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियंस के बीच चैम्पियंस लीग ट्वेंटी20 फाइनल के दौरान अपने पेशेवर करियर के अंतिम मैच के दौरान भावुक हो गये थे तो उन्होंने कहा, ‘‘यह कुछ तरीकों से भावनात्मक था। जब आप टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहते तो आप काफी भावुक महसूस करते हो।’’ राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी करने वाले द्रविड़ ने कहा, ‘‘इस टीम की अगुवाई करना शानदार था। फ्रेंचाइजी कई उतार-चढ़ाव से गुजरी है।’’