Cricket

जयपुर: चैंपियंस लीग ट्वंटी 20 टूर्नामेंट में चेन्नई सुपर किंग्स को पराजित कर राजस्थान रॉयल्स को फाइनल में प्रवेश दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले 42 साल के लेग स्पिनर प्रवीण ताम्बे ने कहा है कि उन्होंने मैच में अपना स्वाभाविक प्रदर्शन किया। चेन्नई के खिलाफ मैच में 10 रन पर तीन विकेट लेने वाले ताम्बे ने कहा कि सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने कोई विशेष रणनीति नहीं अपनाई थी।

उन्होंने कहा ‘पूर्व चैंपियन चेन्नई के खिलाफ उतरने से पहले मैंने कोई विशेष रणनीति नहीं अपनाई थी। मैंने अपना स्वाभाविक प्रदर्शन ही किया।’ चैंपियंस लीग में पांच मैचों में 10 विकेट लेने वाले ताम्बे ने कहा ‘मैंने चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ भी कोई अलग रणनीति नहीं अपनाई थी। मैंने सिर्फ उन्हें गेंद डाली और वह आऊट हो गए।’

राजस्थान रॉयल्य के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी ताम्बे ने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि उनकी टीम दिल्ली भी पूरे विश्वास के साथ जाएगी जहां खिताबी मुकाबला खेला जाना है।