Cricket

जयपुर: चैंपियंस लीग में राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई इंडियंस को 7 विकेट से हरा दिया है।

मुबई इंडियंस टीम ने कप्तान रोहित शर्मा (44) और कीरन पोलार्ड (42) की उदा बल्लेबाजी के दम पर सवाई मानसिंह स्टेडियम में शनिवार को जारी चैपियंस लीग-2013 के मुय दौर के अपने पहले मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के सामने 143 रनों का लक्ष्य रखा है। टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए राजस्थान रॉयल्स टीम ने एक समय 43 रनों पर मुबई के चार विकेट झटक लिए थे लेकिन रोहित ने पोलार्ड के साथ मिलकर स्कोर को समानजनक योग तक पहुंचाने का काम किया।

मुंबई की टीम निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 142 रन बनाने में सफल रही। मुबई ने ड्वेन स्मिथ (9), सचिन तेंदुलकर (15), दिनेश कार्तिक (2) और अंबाती रायडू ( 3) के विकेट जल्दी गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद रोहित और पोलार्ड ने पांचवे विकेट के लिए 52 रन जोड़े। रोहित का विकेट 95 रन के कुल योग पर गिरा। रोहित ने 37 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्के लगाए। रोहित के आउट होने के बाद टीम को समानजनक योग देने की जिमेदारी पोलार्ड ने उठाई और हरभजन सिंह (8) के साथ पांचवें विकेट के लिए 35 रनों की साझेदारी की। ये 35 रन 21 गेंदों पर जोड़े गए। पोलार्ड 36 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाने के बाद 130 के कुल योग पर आउट हुए। हरभजन का विकेट 141 रनों के कुल योग पर गिरा। वह रन आउट हुए। नाथन कोल्टर नील पांच गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 12 रन बनाकर नाबाद लौटे। राजस्थान की ओर से विक्रमजीत मलिक ने तीन विकेट हासिल किए।

वर्ष 2011 में यह खिताब जीत चुकी मुबई की टीम ने इस साल इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब अपने नाम किया है और उसका मुय लक्ष्य यह खिताब दूसरी बार जीतते हुए अपने महान कप्तान और प्रेरक तेंदुलकर को शानदार विदाई देनी होगी। सचिन ने इस साल आईपीएल से संन्यास ले लिया था लेकिन चैपियंस लीग के लिए उन्होंने आश्चर्यजनक तौर पर टीम में वापसी की। इसी तरह राजस्थान रॉयल्स के कप्तान राहुल द्रविड़ के लिए भी यह अंतिम ट्वेंटी-20 आयोजन होगा। द्रविड़ भी इसके माध्यम से ट्वेंटी-20 मैचों से संन्यास लेंगे। राजस्थान रॉयल्स टीम ने आईपीएल-6 में स्पॉट फिक्सिंग की दुश्वारियों से उबरेत हुए तीसरा स्थान हासिल किया था। आईपीएल के बाद भी यह टीम खराब कारणों से खबरों में रही लेकिन अब उसके पास अच्छे कारणों से खबरों में रहने का मौका है। जाहिर है, उसके कप्तान और खिलाड़ी इस मौके को गंवाना नहीं चाहेंगे।