Cricket

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन पर आरोप लगाया है कि उनकी कारगुजारियों से बोर्ड को 39 अरब 68 करोड 27 लाख रुपए का नुकसान हुआ है।

लंदन में स्वनिर्वासित जीवन जी रहे मोदी ने ‘टिवटर’ पर श्रीनिवासन के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि बोर्ड अध्यक्ष ने 2009 में आईपीएल में दूसरे संस्करण में चतुराई के साथ अपनी कारगुजारियों को छिपाया था। अपने आरोपों को साबित करने के लिए उन्होंने कुछ दस्तावेज भी सार्वजनिक किए हैं। दस्तावेजों के मुताबिक श्रीनिवासन ने बीसीसीआई की अनुमति के बिना क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) को बैंक खाता खोलने को कहा और इसके लिए 30 मार्च 2009 को बाकायदा एक समझौता भी किया।

देश में आम चुनावों के कारण आईपीएल दो का आयोजन दक्षिण अफ्रीका में किया गया था। इस समझौते की शर्त यह थी कि इस खाते का संचालन सीएसए टूर्नामेंट संचालित करने के लिए करेगा। इसका इस्तेमाल तो बीसीसीआई के खाते की तरह किया जाएगा लेकिन छद्म रूप से यह सीएसए का खाता रहेगा।