Sports

कोलकाता: पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि अगर सचिन तेंदुलकर अपना 200वां टेस्ट मैच अपने घरेलू मैदान पर खेलें तो मुंबई के बल्लेबाज के लिए यह भावनात्मक रूप से बड़ी चीज होगी। तेंदुलकर इस उपलब्धि से केवल दो टेस्ट दूर हैं।

गांगुली ने कहा, ‘‘अगर तेंदुलकर अपना 200वां टेस्ट मुंबई में खेलेंगे तो यह भावनात्मक रूप से बहुत बड़ी चीज होगी। वहां उनके सभी दोस्त और परिवार के सदस्य हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस समय किसी के लिए भी 200वें टेस्ट का रिकार्ड तोडऩा असंभव लग रहा है। यह उनके लिए शानदार क्षण होगा।’’

गांगुली ने तेंदुलकर के 200वें टेस्ट को देखते हुए बीसीसीआई के वेस्टइंडीज को घरेलू श्रृंखला के लिए बुलाने के फैसले की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘उम्मीद करते हैं हम सभी वहां होंगे। सचिन को अपना 200वां टेस्ट खेलते हुए शानदार होगा। यह क्षण दोबारा नहीं आयेगा, सचिन को इस क्षण का पूरी तरह लुत्फ उठाना चाहिए।’’ पूर्व बायें हाथ के बल्लेबाज ने कहा कि वह तेंदुलकर के संन्यास की योजना पर कुछ भी नहीं कहना चाहेंगे लेकिन उन्होंने कहा कि इससे भारतीय क्रिकेट में खालीपन आ जायेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने गुंडप्पा विश्वनाथ, सुनील गावस्कर और हाल में अनिल कुंबले, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण का संन्यास देखा है। खिलाड़ी आते और जाते हैं। इस समय यह युग धोनी, कोहली और जडेजा का है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन हम कभी भी तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी को दोबारा नहीं देखेंगे। तेंदुलकर के जाने से जो निर्वात होगा, उसे भरना मुश्किल होगा।’’