Sports

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि वह 200वें टेस्ट मैच की विशिष्ट उपलब्धि के बारे में नहीं सोच रहे हैं हालांकि कयास लगाए जा रहे हैं कि यह मैच खेलने के बाद वह संन्यास ले लेंगे। तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मैं एक बार में एक ही काम करना पसंद करता हूं। मैं पिछले 23 साल से खेल रहा हूं और मैंने कभी इस (कोई उपलब्धि हासिल करने के) बारे में नहीं सोचा। मुझे किसी चीज को तय मानकर चलना पसंद नहीं है। जब मैं वहां पहुंच जाउंगा तब हम उस बारे में बात कर सकते हैं।’’

माना जा रहा था कि तेंदुलकर दक्षिण अफ्रीका में 200वां टेस्ट मैच खेलेंगे लेकिन बीसीसीआई ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की श्रृंखला का प्रस्ताव रखा है ताकि वह भारतीय दर्शकों के सामने यह उपलब्धि हासिल कर सकें। बीसीसीआई ने हाल की कार्यकारिणी में खुलासा किया था कि उसकी दक्षिण अफ्रीकी दौरे से पहले वेस्टइंडीज की मेजबानी करने की योजना है।