Sports

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण मंत्री नारद राय ने लखनऊ में तैनात खेल विभाग के उपनिदेशक एवं भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान राम प्रकाश सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

खेल मंत्री राय द्वारा सोमवार देर रात जारी किए गए एक बयान में कहा गया कि सिंह पर सरकारी संपत्ति का दुरुपयोग करने, खेल छात्रावासों में रह रहे खिलाडिय़ों पर अपनी मर्जी थोपने, लखनऊ के क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी रहने की अवधि में छात्रावास के खिलाडिय़ों के भोजन में अनियमितता बरतने एवं घटिया खेल सामग्री उपलब्ध कराने के आरोप हैं।

राय के मुताबिक सिंह के खिलाफ लखनऊ के गोमती नगर स्थित लखनऊ स्टेडियम के टूटने के पश्चात निकला हुआ लाखों रुपये का मलबा अवैध तरीके से बेचने, के.डी. सिंह बाबू स्टेडियम में क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी की तैनाती के दौरान तय मानकों के अनुसार पर्यवेक्षण कार्य न करने एवं शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही बरतने जैसी गंभीर शिकायतें पाई गईं, जिसके तहत उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई।

राय ने कहा कि खेल उप निदेशक राम प्रकाश सिंह निलंबन अवधि में खेल मुख्यालय से जुड़े रहेंगे। उधर सिंह ने मामले पर कुछ भी बोलने से इंकार करते हुए कहा, ‘‘मैं प्रशासन के समक्ष अपने खिलाफ लगे आरोपों का जवाब दूंगा।’’