Sports

नई दिल्ली: कैंसर के बाउंसर पर छक्का मारकर जिंदगी की जंग जीतने वाले जांबाज भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह का लक्ष्य है कि वह कैंसर से पीडित लोगों में जीवन की उमंग पैदा करें ताकि वे ऐसी भयानक बीमारी से लड सकें। युवराज ने एक केयर अवार्ड्स के अवसर पर कहा ‘कैंसर का नाम सुनते ही लोगों में जैसे भय का संचार हो जाता है और वे उसी क्षण जीने की उम्मीद छोड देते हैं। लेकिन मैं चाहता हूं कि लोगों के दिलों से यह भय निकले और यदि ऐसा होता है तो उनमें लडने की क्षमता पैदा होगी।’

 

कैंसर के खिलाफ अपने अभियान ‘युवीकैन’ से देशभर में जागरकता फैला रहे युवराज ने कहा ‘पिछले साल जब मेरा अमेरिका में इलाज चल रहा था तो शुरु में मैं भी डर गया था। लेकिन फिर मैंने इस बीमारी से लडने का फैसला किया। मुझे अपने आसपास के लोगों, मां, परिवार और दोस्तों से भावनात्मक समर्थन मिला और इस समर्थन ने मुझमें एक नई ताकत पैदा की।’

 

उन्होंने कहा ‘युवीकैन के जरिए हम देश के कई अस्पतालों और इंडियन कैंसर सोसायटी के साथ मिलकर एक ऐसा जागरुकता अभियान चला रहे हैं ताकि इस बीमारी को इसके शुरुआती दौर में पकडा जा सके और फिर इसका इलाज किया जा सके।’