Sports

मुंबई: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड ने डे-नाइट टेस्ट मैच शुरू करने का सुझाव दिया है। ईएसपीएन क्रिकइंफो के ‘द फ्यूचर आफ टेस्ट क्रिकेट इन मॉडर्न एज’ कार्यक्रम के दौरान द्रविड़ ने टेस्ट क्रिकेट की तुलना पेड़ के तने से करते हुए कहा कि गुलाबी गेंद के साथ ही डे-नाइट टेस्ट मैच शुरू किए जा सकते हैं।

द्रविड़ ने कहा, 'टेस्ट क्रिकेट पेड़ के तने की तरह है और टी-20 या वनडे इसकी शाखाओं की तरह है। यह तो हम सभी जानते हैं कि शाखाओं पर ही फल लगते हैं,जिसकी वजह से सभी को शाखाएं ज्याद अच्छी लगती हैं। लेकिन तना पुराना और बड़ा हिस्सा होता है, जो लंबे समय बाद भी ऊंचा और मोटा ही रहता है। अगर तने को काट दिया जाए तो सभी शाखाए गिर जाएंगी और फल सूख जाएगा।'

द्रविड ने कहा, 'ठीक यही हाल क्रिकेट का भी है। अगर हम टेस्ट क्रिकेट को दूधिया रोशनी में खेलेंगे तो इससे खेल की परंपरा को खतरा नहीं होगा। टेस्ट किकेट ने पूरी सदी के दौरान अपना लचीलापन साबित किया है और हमें यह समझना होगा कि अतीत कितना भी संकट से भरा क्यों ना रहा हो, यह अपने इतिहास के काफी नाजुक मौके पर पहुंच गया है।'