Cricket

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेन्द्र सिंह धोनी ने बड़े ही डिप्लोमेटिक अंदाज में युवा खिलाडिय़ों के मौजूदा प्रदर्शन की सराहना की है, लेकिन साथ ही यह भी संकेत दिया है कि सीनियर खिलाडिय़ों के लिए अभी टीम में आने के रास्ते बंद नहीं हुए हैं।

धोनी ने सोमवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि टीम चयन में उम्र कोई बाधा नहीं है। यदि कोई खिलाड़ी फिट है और फार्म में है तो वह किसी भी समय टीम में आ सकता है। यह जरूरी नहीं है कि कोई युवा खिलाड़ी ही टीम में इस समय जगह बना सकता है।

स्पोट्र्स एंड फिटनेस रिटेल चेन (फिटसोल) के ब्रांड चैंपियन धोनी का यह इशारा भारतीय टीम से बाहर चल रहे सीनियर खिलाडिय़ों के लिए एक अच्छा संकेत हो सकता है। वीरेन्द्र सहवाग, गौतम गंभीर, हरभजन सिंह, युवराज सिंह और जहीर खान जैसे दिग्गज खिलाड़ी इस समय टीम से बाहर हैं और टीम में वापसी के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

भारतीय कप्तान ने कहा, बहुत कुछ आपकी फिटनेस पर निर्भर करता है कि आप मैदान में खेलने के लिए कितने फिट हैं। फिटनेस के साथ-साथ अच्छी फार्म का होना भी बहुत जरूरी है। यदि आप इन दोनों मापदंडों पर खरे उतरते हैं, तो आपको टीम में आने से कोई नहीं रोक सकता।

धोनी ने हालांकि इस बात से असहमति जताई कि 2015 विश्वकप के मद्देनजर एक युवा टीम तैयार की जानी चाहिए। उन्होंने कहा, मैं इस बात से कतई सहमत नहीं हूं। यह अच्छी बात है कि युवा खिलाड़ी इस समय काफी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, जिससे हमारे पास काफी विकल्प हो गए हैं, लेकिन टीम में जगह बनाने का रास्ता सिर्फ फार्म और फिटनेस से जाता है।