Other Games

नई दिल्ली: विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने के बाद विश्व रैंकिंग में टॉप टेन में पहुंची पी वी सिंधु ने कहा है कि उन्हें उम्मीद नहीं थी कि वह इतनी जल्दी यह कामयाबी हासिल कर लेंगी।

 

सिंधु ने कहा ‘विश्वकप में पदक जीते मुझे एक ही सप्ताह हुआ है और जिस तरह इस पदक के बाद मुझे नई पहचान मिली है। उससे मैं बहुत खुश हूं। वैसे मुझे उम्मीद नहीं थी कि अपनी पहली विश्व चैंपियनशिप में ही मैं पदक जीत सकूंगी।’ हैदराबाद की 18 वर्षीय सिंधु ने कहा कि पहली विश्व चैंपियनशिप में दो बडी चीनी खिलाडियों को हराना और फिर कांस्य पदक जीतना एक सपने के पूरा होने जैसा है।

 

विश्व रैंकिंग में दसवें नंबर पर पहुंची सिंधु ने कहा ‘मैंने सोचा था कि मैं इस वर्ष के आखिर तक टाप टेन में पहुंच पाऊंगी। लेकिन मैं इतनी जल्दी पहुंच जाऊंगी इसकी मुझे उम्मीद नहीं थी और अगले लक्ष्य के बारे में मैंने अभी कुछ सोचा नहीं है।’ इंडियन बैडमिंटन लीग (आईबीएल) में सायना नेहवाल के हाथों मिली पराजय पर सिंधु ने कहा कि उन्होंने पहले गेम में बढत गंवाई और दूसरे गेम में कई बेजा भूलें की जिसका उन्हें नुकसान उठाना पडा। उन्होंने साथ ही कहा कि वह अगले मैचों में बेहतर प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगी।