Cricket

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन को जम्मू-कश्मीर क्रिकेट टीम को कोचिंग देने की पेशकश की गई है। रिपोर्ट के अनुसार वह इस जिम्मेदारी को लेने या इससे इनकार करने पर विचार कर रहे हैं।

इसके मुताबिक जम्मू कश्मीर क्रिकेट संघ के अध्यक्ष फारूख अब्दुल्ला ने अजहर को इस पद की पेशकश की जो पिछले सत्र के खत्म होने के बाद बिशन सिंह बेदी के जाने से खाली पड़ा है।

अब्दुल्ला ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ से कहा, ‘‘हम अभी तक अंतिम फैसले पर नहीं पहुंचे हैं। ’’अजहर को बीसीसीआई ने कथित रूप से मैच फिक्सिंग में लिप्तता के लिये 2000 में आजीवन प्रतिबंधित किया था लेकिन आंध्र प्रदेश उच्च न्यायायल ने पिछले साल इसे बदलकर उन्हें राहत दी थी।

अजहर के सचिव मुजीब खान ने कहा कि इस पूर्व बल्लेबाज ने अभी फैसला नहीं किया है। मुजीब ने कहा, ‘‘उन्हें जेकेसीए ने कोच पद की पेशकश की है लेकिन उन्होंने अभी इसे लेने या नहीं लेने पर फैसला नहीं किया है। वे उनकी सेवायें लेना चाहते हैं।
 
वह गंभीरता से विचार कर रहे हैं क्योंकि वह इस खेल को कुछ देने के लिये बेताब हैं जो उनके दिल के काफी करीब है। ’’रिपोर्ट ने कहा कि अगर अजहर इस पेशकश को स्वीकार कर लेते हैं तो उनकी क्रिकेट मैदान पर बतौर कोच वापसी आसान नहीं होगी।