Sports

नई दिल्ली: बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सचिव अजय शिर्के ने आज उच्चतम न्यायालय के एक अक्तूबर को दिए गए निर्देश के अनुसार न्यायमूर्ति आर एम लोढ़ा समिति के पास अपने अपने हलफनामे पेश कर दिए।  बीसीसीआई अध्यक्ष ठाकुर अपने 7 पेज के हलफनामे में लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को समग्रता में स्वीकार करने की सदस्यों की असमर्थता के अपने रवैए पर कायम रहे और उन्होंने ऐसी परिस्थितियों में निर्देशों की मांग की।  

बीसीसीआई अध्यक्ष ने इसके साथ ही 50 पन्नों के अन्य दस्तावेज भी जमा किए जिनमें सुधारों पर चर्चा के लिए बुलाई गई विभिन्न आपात बैठकों की विस्तृत जानकारी दी गई है।  उन्होंने 9 अगस्त को व्यक्तिगत तौर पर समिति के सामने उपस्थित नहीं होने पर भी खेद जताया क्योंकि तब संसद का सत्र चल रहा था।