Cricket

गुवाहाटी: असम के क्रिकेट प्रशंसकों और लोगों ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की बस पर पत्थर फेंकने की घटना के लिए माफी मांग ली है जिससे नाराज ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर अब खुश हो गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई टीम जब गुवाहाटी से हैदराबाद के लिए रवाना हो रही थी तब क्रिकेट प्रशंसक टीम होटल और हवाई अड्डे के बाहर कल हाथों में तख्तियां लिए खड़े थे जिस पर लिखा था ‘सॉरी’ प्रशंसकों की इस भावना से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के मन का सारा गुस्सा पिघल कर उनके दिलों से निकल गया।
PunjabKesari

इस बात को टीम के खिलाड़ी मोइसिस हेनरिक्स ने भी स्वीकार किया और टि्वटर पर कहा, ‘‘बस पर हमला एक खराब घटना थी लेकिन असम के लोगों और प्रशंसकों ने उसके बाद जो भावना दिखाई हम उसके कायल हैं।’’ भारत और आस्ट्रेलिया के बीच सीरीका के दूसरे मैच के बाद जब आस्ट्रेलियाई टीम अपने होटल रेडिसन ब्लू वापिस लौट रही थी कि तभी कुछ लोगों ने आस्ट्रेलियाई टीम की बस पर पत्थर फेंके। इस घटना में टीम की बस के दायीं ओर की खिड़कियों के शीशे टूट गए।
PunjabKesari
आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर आरोन फिंच ने आधी रात से ठीक पहले सोशल मीडिया पर इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए सोशल साइट पर एक तस्वीर पोस्ट की थी जिसमें टीम की बस पर हुये हमले के बाद टूटी हुई खिड़की को देखा जा सकता था। उन्होंने तस्वीर के साथ लिखा ‘‘यह काफी डरावनी घटना थी। हम जब स्टेडियम से होटल लौट रहे थे तब टीम की बस पर किसी ने पत्थर फेंका जिससे खिड़की का शीशा तक टूट गया।’’  इस बीच गुवाहाटी पुलिस ने इस घटना के संबंध में दो संदिग्ध व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है।