Sports

मुंबई ,महाराष्ट्र ( निकलेश जैन ) अखिल भारतीय राष्ट्रीय शतरंज संघ ( ब्लाइंड ) के द्वारा आयोजित राष्ट्रीय ब्लाइंड शतरंज चैंपियनशिप के पहले तीन राउंड के बाद कर्नाटक के चार बार के विजेता और वर्तमान एशियन स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा गांगुली नें अपने तीनों मैच जीतकर बढ़त बना ली है उनके साथ महाराष्ट्र के आर्यन जोशी भी पहले तीन मैच जीतकर एकल बढ़त पर आ गए है । देशो के 14 श्रेष्ठ खिलाड़ियों के बीच राउंड रॉबिन आधार पर यह प्रतियोगिता खेली जाएगी । वही उड़ीसा के प्रधान भाई प्राचुर्य प्रधान और सौन्दर्य प्रधान  2.5 अंको के साथ सयुंक्त दूसरे स्थान पर बने गए है । 

PunjabKesari

चार बार के विजेता और वर्तमान एशियन स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा गांगुली

 

संकट मे था आयोजन - तीन दिन पूर्व प्रायोजको नें प्रतियोगिता से हाथ वापस ले लिए और ऐसा लगा की इसका आयोजन नहीं हो पाएगा ऐसे में जब आयोजन मुश्किल नजर आ रहा था बच्चो के लिए शतरंज के सॉफ्टवेयर कंपनी चेसबेस इंडिया नें खिलाड़ियो से मदद की अपील की और देखते ही देखते भारतीय शतरंज खिलाड़ियों नें जमकर मदद की और मात्र दो दिन में तकरीबन 3.5 लाख की मदद खिलाड़ियों नें की किसी नें 500 तो किसी ने 30000 तक की मदद की और अब मैच संभव हो गया है । 

 

कैसे खेलते है ब्लाइंड शतरंज - सभी नेत्रहीन खिलाड़ी एक ऐसे बोर्ड का इस्तेमाल करते है जिसमें  सफ़ेद खाने जहां थोड़े गहरे तो काले (हरे ) खाने थोड़े उठे हुए होते है । काले मोहरो के उपर भी पहचान के लिए खास निशान होते है । खिलाड़ी इन्हे छूकर महसूस करते है और खेल की स्थिति का अपने दिमाग में ही आकलन करते है , अगर देखा जाए तो उनका ध्यान किसी भी सामान्य शतरंज खिलाड़ी से कई गुना बेहतर होता है ।