Sports

ढाका:  भारत के युवा खिलाडिय़ों ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को गुरुवार को 3-1 से पीटकर अंडर-18 एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया। भारतीय टीम ने इस मैच में पाकिस्तानी टीम के खिलाफ हर लिहाज से शानदार प्रदर्शन किया।

भारत की जीत में शिवम आनंद ने सातवें, दिलप्रीत सिंह ने 32वें और नीलम संजीप जैश ने 46वें मिनट में गोल किए। कुंवर दिलराज सिंह को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। भारत का शुक्रवार को होने वाले फाइनल में मेजबान बंगलादेश के साथ मुकाबला होगा। पाकिस्तानी टीम अपने पिछले तीन मैचों में 26 गोल ठोकने के बाद सेमीफाइनल में उतरी थी, लेकिन भारत की मजबूत दीवार के सामने उसके इरादे टकराकर बिखर गए।

भारतीय टीम ने सातवें मिनट में ही 1-0 की बढ़त बना ली। दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर में भारत ने इस गोल से मनोवैज्ञानिक दबाव बना ली। आधे समय से तीन मिनट पहले दिलप्रीत ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलकर स्कोर 2-0 पहुंचा दिया। दूसरे हाफ में भी भारत ने अपना दबदबा कायम रखा और नीलम संजीप ने 46वें मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर पर भारत का तीसरा गोल दागते हुए स्कोर 3-0 पहुंचा दिया। पाकिस्तान का एकमात्र गोल अमजद अली खान ने 63वें मिनट में किया। भारत का फाइनल में मेजबान बांग्लादेश के साथ मुकाबला होगा जिसने अन्य सेमीफाइनल में चीनी ताइपे को 6-1 से पीटा था।