Sports

नई दिल्ली: टीम इंडिया के बाहर चल रहे स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह के लिए भाभी आकांक्षा शर्मा ने उन पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। इतना ही नहीं उन्होंने युवी के भाई जोरावर सिंह और मां शबनम पर भी ये आरोप लगाए हैं। इस केस की सुनवाई 21 नवंबर को होनी तय हुई है। 

21 अक्टूबर नहीं 21 नवंबर को होगी पहली  सुनवाई
बताया जा रहा है कि पहले इस केस की सुनवाई  21 अक्टूबर को होनी थी लेकिन अब ये तारीख बदल दी गई है। अब इस केस में सुनवाई 21 नवंबर को होगी। हालांकि युवराज सिंह, उनकी मां शबनम और भाई जोरावर के वकील दमनबीर सिंह ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा, कि मेरे मुवक्किलों के खिलाफ न तो कोई एफआईआर दर्ज हुई है और न ही कोई आपराधिक शिकायत। आकांक्षा ने एक अर्जी कोर्ट में दायर की है और मेरे मुवक्किल अपने वकील के जरिए गुरुग्राम कोर्ट द्वारा तय की गई तारीख पर उसका जवाब देंगे।

 


युवराज की भाभी का आरोप
युवराज की भाभी का आरोप है कि घरेलू हिंसा का मतलब सिर्फ शारीरिक हिंसा से नहीं है। इसका मतलब मानसिक और आर्थिक प्रताड़ना से है, जिसमें युवराज भी बराबर के भागीदार हैं, इसके साथ उन्होंने कहा कि जब युवराज और जोरावर की मां आकांक्षा पर बच्चा पैदा करने का दबाव बना रही थी, तब युवराज भी इसमें बराबर के शामिल थे। उन्होंने भी आकांक्षा पर बच्चा पैदा करने का दबाव बनाया था। इस काम में युवराज ने अपनी मां का पूरा साथ दिया और कहा कि, 'शबनम सिंह बहुत ही डोमिनेंट हैं। वह अपने फैसले सब पर थोपती हैं। जोरावर और आकांक्षा का हर फैसला शबनम सिंह पर ही निर्भर रहता था, जैसा वह कहती हैं, घर में उनकी ही मर्जी चलती है।