Sports

कानपुर: न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत के ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच की जीत में बल्ले और गेंद से ऑलराउंड प्रदर्शन की बदौलत मैन आफ द मैच बने रवींद्र जडेजा ने कहा है कि टीम में अपनी ऑलराऊंड भूमिका से वह खुश हैं। जडेजा ने मैच में कुल छह विकेट लेने के अलावा पहली पारी में नाबाद 42 और दूसरी पारी में नाबाद 50 रन बनाए। भारत ने मेहमान न्यूजीलैंड को सोमवार को संपन्न हुये पहले टेस्ट 197 रनों से हराकर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। 

जडेजा ने मैच के बाद कहा कि इस जीत से मैं बहुत खुश हूं। टीम में मेरी जो ऑलराउंडर की भूमिका है मैंने उसी को निभाया। दलीप ट्रॉफी के फाइनल से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला। मैंने वहां पर ऐसी ही गेंदबाजी की थी जिसकी बदौलत टर्निंग पिच पर मैंने गेंद का अच्छा इस्तेमाल किया। इस प्रदर्शन से मेरे अंदर काफी आत्मविश्वास आया है। 

27 वर्षीय ऑलराउंडर ने कहा कि मुझे लगता है कि हमने अपनी गेंदों में शानदार मिश्रण दिखाया। निश्चित रूप से धीमी विकेट पर रविचंद्रन अश्विन बहुत अच्छे गेंदबाज साबित होते हैं। 200 विकेट लेने पर मैं उन्हें बधाई देता हूं। उनके साथ गेंदबाजी का मैंने पूरा लुत्फ उठाया। जब हमें विकेट नहीं मिलती है तो हम हमेशा आपस में यह बात करते हैं कि अब कैसे गेंदबाजी करनी है। पहली पारी में भी जब केन विलियम्सन बल्लेबाजी कर रहे थे तो हमने गेंदबाजी को लेकर एक-दूसरे से काफी चर्चा की।