Sports

मेलबोर्न: आस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर शेन वाटसन ने उन्हें ‘ट्यूमर’ बताने वाली पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क की टिप्पणी पर जवाबी हमला करते हुए कहा है कि क्लार्क को अपनी गिरेबां में झांककर देखना चाहिए। 
 

पूर्व कप्तान क्लार्क ने टीम की पुरानी लड़ाई का खुलासा करते हुए हाल ही में एक साक्षात्कार में कहा था कि टीम में कई ऐसे खिलाड़ी थे जो ‘ट्यूमर’ की तरह थे और अगर ठीक नहीं किया जाता तो वो कैंसर में तब्दील हो सकते थे।
 

उन्होंने पूर्व ऑलराउंडर वाटसन को भी टीम में ‘ट्यूमर’ की तरह बताया था। पूर्व ऑलराउंडर वाटसन ने एक कार्यक्रम में इस बात का जवाब देते हुए कहा कि मेरा मानना है कि मुझ पर प्रत्यक्ष रूप से ऐसी टिप्पणी करने वाले पहले अपने गिरेबां में झांककर देखें। यह बहुत ही निराशाजनक है कि जब हमने संन्यास ले लिया उसके दो-तीन साल बाद इस तरह की टिप्पणियां बाहर निकल कर आ रही हैं। उन्होंने कहा कि क्लार्क का यह बयान दुर्भाग्यपूर्ण और हास्यास्पद है। 

वाटसन उन चार खिलाडिय़ों में शामिल हैं जिन्हें 2013 में मोहाली में भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच से निलंबित कर दिया गया था और उन्हें टीम का होमवर्क पूूरा नहीं करने पर वापस स्वदेश भेज दिया गया था। उस समय वॉटसन को ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कोच मिकी आर्थर ने टीम का कैंसर बताया था।