Sports

मोहाली: भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत हासिल करने के बाद खुद को लेकर एक राज खोला है। अपने चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने को लेकर स्पष्ट किया है कि वह इस क्रम पर ज्यादा खुलकर खेल पाते हैं जबकि निचले क्रम में उनका खेल प्रभावित हो रहा था। धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरा वनडे जीतने के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चौथे नंबर पर उन्हें बल्लेबाजी करने में ज्यादा सहज महसूस होता है। उन्होंने कहा कि मुझे रन बनाकर बहुत अच्छा महसूस होता है। मैं इस क्रम पर पिछले काफी समय से बल्लेबाजी करना चाहता था ताकि अपने खेल को दिखा सकूं। यह पांचवें या छठे नंबर पर खेलकर करना संभव नहीं था। सीमित ओवर कप्तान ने कहा कि मेरे निचले क्रम पर बल्लेबाजी करने से खेल प्रभावित हो रहा था और इसलिए मैं ऊपरी क्रम पर खेलना चाहता था। मैं ऐसा अपने खेल में सुधार के लिए और खुलकर खेलने के इरादे से करना चाहता था।

धोनी पिछले कई वर्षाें से निचले क्रम पर बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन वह मौजूदा सीरीज में मनीष पांडे से ऊपर चौथे नंबर पर खेल रहे हैं। धोनी ने इस मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुये 80 रन की अहम पारी खेली जिसमें छह चौके और तीन छक्के शामिल है। धोनी का यह 11 पारियों में पहला अर्धशतक भी है। धोनी ने अपने इस फैसले को सही ठहराते हुए कहा कि टीम प्रबंधन में भी पिछले काफी समय से इस बात पर ही चर्चा हो रही थी। जब आप निचले क्रम पर खेलते हैं तो आपका काम मैच जिताने का होता है और आपको केवल लक्ष्य तक पहुंचने के लिए स्कोर करना होता है।

एक क्लिक कर जानें, मैच हारने के बाद विराट पर क्या बोले न्यूजीलैंड के कप्तान