Sports

रांची: महेंद्र सिंह धोनी कल हो सकता है कि अपने घरेलू मैदान पर आखिरी मैच खेलें और इसलिए स्थानीय लोग चाहते हैं कि वह दीवाली से पहले यहां अपने बल्ले से धूमधड़ाका मचाएं। इस मैदान पर भारत ने अब तक अपने सारे मैच जीते हैं। धोनी ने टेस्ट मैच खेलने बंद कर दिए हैं, इसलिए इसकी कोई गारंटी नहीं है कि अगली बार भारत जब यहां मैच खेलेगा तो सीमित आेवरों का यह करिश्माई कप्तान टीम में रहे।
 

पिछले मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरने के बाद 80 रन बनाने वाले धोनी लगता है कि इस बार अपने घरेलू प्रशंसकों को निराश करने के मूड में नहीं है। उस दिन जब विराट कोहली सहित अधिकतर खिलाड़ी वैकल्पिक अभ्यास सत्र के लिए नहीं आए तब 35 वर्षीय धोनी ने पूरे मनोयोग से लगभग 20 मिनट तक बल्लेबाजी की। धोनी की लेग स्पिन से किसी और ने नहीं बल्कि मुख्य कोच और दिग्गज स्पिनर अनिल कुंबले ने परीक्षा ली।
 

मोहाली एकादश में शामिल खिलाडिय़ों में से उनके अलावा हार्दिक पंड्या और मनीष पांडे ने भी अभ्यास किया। भारत ने आखिरी बार यहां श्रीलंका के खिलाफ दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था जिसमें भारत ने 196 रन बनाए थे। धोनी तब नौ रन बनाकर नाबाद रहे थे। इस मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका को नौ विकेट पर 127 रन ही बनाने दिए थे।